click and start earn money

Propellerads

USE CODE (1RUPEE) FOR HOSTING IN RS.1

INSTALL

Wednesday, 10 January 2018

how to buy Bitcoin By a Unocoin wallet in Hindi

भारत में Bitcoins को खरीदने के लिए Unocoin एक मशहूर website है. यह नए लोगों के लिए बढ़िया है क्योंकि इसका user-interface बहुत बढ़िया है और उनके पास iOS और Android app भी है। 


आपके जानने के लिए कुछ ज़रूरी बातें:

Unocoin Wallet Details In HIndi Or How To Buy Bitcoin BY a uncoin Wallet
इससे पहले कि आप भारत में अपना पहला Bitcoin खरीदें आपके जानने के लिए कुछ ज़रूरी बातें इस प्रकार है:
  • Bitcoin भारत में legal है. पर यह RBI के द्वारा regulate नहीं किया जाता.
  • December 24, 2013 में RBI ने यह पक्का कर दिया कि virtual currencies (जैसे कि Bitcoins, Litecoins, Etherium, Dogecoins, etc.) को किसी भी central बैंक या monetary authority में payment के माध्यम के तौर पर use नहीं किया जा सकता.
  • Bitcoins को खरीदने के लिए Unocoin aur Coinsecure एक legal website है.
पर इसमें कोई चिंता करने की बात नहीं है RBI इन virtual currencies को serious लेता है या नहीं क्योंकि विश्व भर में इसे बहुत से लोग already अपना चुकें हैं. मुझे आशा है कि आपको पता होगा कि पिछले चंद वर्षों में Bitcoin और Blockchain technology कितनी popular हो गयी है.
यहाँ तक की Bitcoin बहुत ज्यादा stable है. अभी की धारणा ये है कि ये 2017 तक $1,000 का price क्रॉस कर जायेगा. Is video main samajahiye Bitcoin kya hain:-


पर अभी के लिए, Bitcoin को खरीदने एक बढ़िया सलाह की तरह है और साथ में एक risk भी है.
तो चलिए अपना पहला Bitcoin खरीदने के steps जान लेते हैं.

भारतीय नागरिकों के लिए उनका पहला Bitcoin खरीदने के लिए step by step guide:

Unocoin की site पर जाईये और एक नए account के लिए signup कीजिये.
signup-for-unocoin
  • Unocoin की तरफ से आपको registration verification मिलेगी; अपनी registration को verify करने के लिए उस पर click कीजिये.
  • अपने नए बनाये हुए Unocoin account में login कीजिये.
  • अगला step KYC को complete करना होगा. अपने बैंक account की details भरने के साथ शुरू कीजिये. यह वही बैंक account होगा जिसमे आपको पैसे मिलेंगे जब आप अपने Bitcoin को बेचेंगे. Bank account उसी बन्दे का होना चाहिए जिसके नाम पर Unocoin का account है.
bitcoin-kyc-india
  • Next पर click कीजिये.
अगले step में आपको KYC के लिए अपने documents को update करना होगा. जो documents चाहिए वो इस प्रकार हैं:
  • Pan Card की copy
  • आपकी फोटो
  • Address का proof (आपका आधार card या driving लाइसेंस या पासपोर्ट जिसमे address दर्शाया हो)
  • Passport या आधार card का वह पेज जिसमे आपकी फोटो हो.
मेरे केस में मैंने अपने account को verify करने के लिए मेरा passport और मेरा pan card use किया. इस KYC verification को एक दिन का समय लगेगा और एक बार ये होजाये, आप Bitcoins को खरीदना शुरू कर सकते हैं.
नोट: यदि अभी आप Bitcoin नहीं खरीदते लेकिन फिर भी अभी आपने एक ऐसा account successfully create कर लिया है जिसमे आप आसानी से Bitcoin की किसी अन्य पार्टी से receive कर सकते हैं.

अपने Unocoin account में funds को add कैसे करें?

Bitcoin को खरीदने के लिए, आपको अपने Unocoin account में funds को add करना होगा. यह NEFT/RTGS/IMPS की मदद से किया जा सकता है.
Left side में “Indian Rupee” के column में click कीजिये और फिर “Deposit” पर click कीजिये.
अगले पेज में scroll down कीजिये और funds को deposit करने के लिए आपको बैंक details दिखेंगे.
add-fund-to-unocoin-account
आप किसी भी amount को भरकर अपने funds को add करना शुरू कर सकते हैं. (मन लीजिये, इस example के लिए हमने 10,000 रूपए भरें हैं)
buy-bitcoin-in-indian-rupee
  • “Deposit” पर click कीजिये और “Yes” पर click करके deposit को confirm कीजिये.
deposit-fund-confirmation
  • अपने बैंक account में अपने बैंक account के address को enter कीजिए.
  • जितना भी amount आप add करना चाहें, उसे deposit कर दीजिये. Example के लिए, Rs. 10,000
  • Reference Number को नोट कीजिये (यह बहुत ज्यादा ज़रूरी है)
एक बार आप funds add कर दें, और आपके पास Reference number हो, उसी पेज पर, “Deposit” column के नीचे, आप नीचे reference number add कर पाएंगे.
(नीचे दिया गया screenshot देखें)
payment-reference-number
adding-reference-number-unocoin
अब कॉफ़ी पीजिये या फिर अपना कोई और काम कर लीजिये. इससे पहले की ये funds आपके बैंक account में reflect हों, इसे कुछ घंटों का समय लगेगा.
मुझे पता है कि ये तरीका बढ़िया नहीं है, पर यही एक तरीका है जिससे भारतीय लोग Bitcoins खरीदना शुरू कर सकते हैं. एक बार ये process हो जाये फिर अगली बार आपको तंग नहीं होना पड़ेगा। 
इसके इलावा, ये सब करने के बाद आप funds को add करने के लिए और Bitcoins को खरीदने के लिए Android आप या फिर iOS आप का भी use कर पाएंगे.
एक बार ये पैसे आपके Unocoin INR wallet में आप हो जाएँ, अपने Unocoin के डैशबोर्ड में वापिस जाईये और आप और खरीदना शुरू कर सकते हैं.
buy-bitcoin-unocoin-india-bitcoin-exchange
अगले पेज पर आप सीधा Bitcoin को खरीद सकते हैं, जोकि सीधा आपके Unocoin Bitcoin wallet address या फिर किसी और के Bitcoin wallet address में add हो सकते हैं.
confirm-bitcoin-purchase
एक बार जब आप “Buy Bitcoins” के button पर click कर दें, आपकी transaction real time में होगी और आपके Bitcoins आपके account में add हो जायेंगे.
अब यदि आपने ऊपर बताये गयी सभी steps को follow किया होगा तो मुबारक हो! आप अब कुछ न कुछ amount के Bitcoin के मालिक हैं.
चाहे हमने इस guide को पूरा कर लिया है लेकिन मैं आपको सुझाव दूंगा कि आप Unocoin के दूसरे options को भी ब्राउज करें और इसके साथ friendly हो जाएँ. एक चीज़ जिसके बारे में आपको ध्यान देना चाहिए और जो आपकी security के related है वो है:
Security > 2-Factor Auth & Enable Secondary Password (Google Authenticator).
यह पर आप अपने Bitcoin की security के बारे में जान सकते हैं। 


Tuesday, 9 January 2018

Ethereum Cryptocurrency Full Details In Hindi

Ethereum Cryptocurrency Full Details In Hindi. पिछले कुछ महीनो में Ethereum का price भी काफी बढ़ा है और आज के समय में, ये सबसे अधिक promising Cryptocurrencies में से एक है. इस article में मैं आपको Ethereum को समझने में मदद करूँगा और एक beginner के तौर पर आप इसके बारे में हर वो एक चीज़ जानेंगे, जोकि आपको पता होनी चाहिए। 


Keywords :- Ethereum coin, ethereum coin wallet, best ethereum wallet, best ethereum wallet india, ethereum wallet android, ethereum coin history.



Ethereum क्या है?

“Ethereum is a decentralized platform for applications that run exactly as programmed without any chance of fraud, censorship, or third-party interference.”
“Ethereumऐसे अनुप्रयोगों के लिए विकेंद्रीकृत मंच है जो बिना किसी धोखाधड़ी, सेंसरशिप, या तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप के किसी भी मौके के जरिए क्रमादेशित रूप से चलते हैं।”
Ethereum का इतिहास
एक Russian Programmer Vitalik Buterin ने Ethereum को 2013 के अंत में create किया था. उसने इसे formally announce January 2014 को Miami, USA में हुयी The North American Bitcoin Conference में किया था.
Ethereum को ऐसी दो चीज़ों को करने के लिए बनाया गया था जोकि bitcoin नहीं कर सकता था.
बल्कि ये एक कोशिश थी, smart contracts और DApps को independently code, run और execute करने की बिना किसी भी human interaction के.
July 2014 में, Co-founder के तौर पर, Dr. Gavin Wood की joining से Ethereum Foundation ने Ethereum software की development को bootstrapped किया और Ether tokens के $18 million prescale में raise कर लिए.
Ethereum की Team
Vitalik Buterin
Vitalik Buterin
Vitalik Buterin (CEO) – 2011 में Bitcoin की मदद से, Vitalik ने cryptocurrencies और blockchain technologies को discover किया. उसने Bitcoin को समझने के लिए 2012 में Bitcoin Magzine को देखा. 2014 में Theil Fellowship मिलने के बाद, उसने Ethereum पर full-time काम करने के लिए University of Waterloo को drop out कर दिया. Vitalik ने इस बात को समझा कि future में offer करने के लिए blockchain technology के पास क्या है और 2013 में उसने Ethereum को invent किया.
Gavin Wood (CTO) – 2014 में एक mutual friend के ज़रिये Gavin Vitalik से मिले. उसने smart contract language Solidity को बनाया. Ethereum Virtual Machine (EVM) के लिए, उन्होंने Ethereum blockchain पर पहला yellow paper भी लिखा.
Jeffery Wilcke – Inception के बाद, वह Ethereum पर Go programming की implementation के कार्य को देख रहें हैं.
Ming Chan –  वह Ethereum के executive director के तौर पर काम कर रहे है और Ethereum blockchain की regulatory और legal matters की निगरानी करते हैं.

Total कितने Ether produce किये जायेंगे?

बहुत से लोग इस बात को जानना चाहते हैं कि कितना bitcoins को produce किये जायेगा. पर ये Ethereum नहीं है जोकि produce या mine किया जायेगा, बल्कि ये  तो Ether है.
Ethereum एक network है जोकि blockchain technology पर based है, और Ether एक cryptocurrency हैं जोकि इस network को चलाती है.
Ether को issue किये जायेगा constant annular लीनियर rate पर block mining process के द्वारा. यह total annual ETH जोकि pre-sale में बनेंगे, उसका 0.3 times होगा.
Presale में 60,102,216 Ether बने.
इसका 0.3 times हुआ, 18,030,664.8.
तो इस तरह हर साल approx. 18 million Ether बने.
Ether की Mining
Ethereum blockchain को Ether के द्वारा safe रखा जाता है, जोकि miners के लिए एक incentive है.
Ether की supply सालाना 18 million पर limited है. हर 12-14 second में, एक नया Ethereum block mine होता है, और 5 Ether का reward उस computer को दिया जाता है, जिसने उसे mine किया है.
Ether को CPU और GPU mining से mine किया जा सकता है Ethereum blockchain पर blocks को mine करके.
Market Capitalization (Market Cap)
Ethereum के पास अभी $10 Billion का market cap है.
यह Bitcoin की market cap का 1/3 है. अभी 1 Ether की present value $220 है.
अब सवाल ये उठता है कि क्या ETH coins से powered होने वाला Ethereum आने वाले समय में एक popular platform होगा या नहीं. अब ये तो आने वाले दिन ही बतायेंगे.

Ethereum के Popular Wallets

The ETH, ETC split, The DAO, and The Hack

Decentralized Autonomous Organization (short में DAO) को Ethereum blockchain के साथ जोड़ा गया था ताकि ये एक Venture Capital Firm के तौर पर काम कर सके जिसे कोई भी न ही own करता हो और न ही operate. इसे smart contracts जोकि DAO tokens को use करके execute होते हैं, उनके basis पर कार्य करने की सम्भावना के साथ बनाया गया था.
June 2016 में इसे $150 million की crowd funding के साथ launch किया गया था.
Launch के तुरंत बाद ही इसे hackers ने hack कर लिया.
US$60 Million के DAO Tokens को DAO के एक faulty code के कारण निकल लिया.
उसके तुरंत बाद, Ethereum blockchain के Block 192000 पर एक Hard Fork implement किया गया जिससे कि DAO token holders के loss को refund किया जा सके. इस Hard Fork ने hacked transaction को invalid करार करते हुए blockchain का एक नया version बना लिया.
इससे ETC (Ethereum Classic) का जनम हुआ.
Ethereum Classic’s blockchain Ethereum की तरह ही same है Block 192000 तक जहाँ इस Hard Fork को implement किया गया था.
Users जिन्हें Hard Fork का idea अच्छा नहीं लगे वे नए version पर upgrade करने की जगह पुराने version से ही mine करते रहे.
तब से, block chains के versions के हिसाब से एक दूसरे से भिन्न है. ETC (Ethereum Classic) एक exchange platform पर trade की जाती है और decentralized apps और smart contracts की same functionality offer करती है.

Bitcoin VS. Ethereum

Ether-VS-Bitcoin
Bitcoin एक peer to poor electronic cash system है.
Bitcoin digital money है. Bitcoin की blockchain केवल network के शुरुआत से हुयी सभी transactions को store और handle करती है.
यह आसन accounting और value के transfer में मदद करती है.
पर Ethereum blockchain, accounts और transactions को handle करने के इलावा programming logic भी store करती है.
यहाँ एक उधारण दिया गया है:
May की 8 तारीक को, यदि A के account में $X से ज्यादा पैसे हैं तो A के account से B के account में $Y transfer किये जाएँ. यदि नहीं, तो B के account में $Y transfer न किये जाएँ.
और ऐसे codes जब एक बार execute हो जाते हैं, Ethereum की blockchain पर हमेशा के लिए store हो जाते हैं. इससे future decision-making processes में मदद मिलती है.
Ethereum Bitcoin से mostly इस लिए अलग है, क्योंकि Ethereum में आप केवल पैसों कोई ही transfer नहीं करते, आप smart contracts को execute करते हैं.
बहुत से ऐसे real world scenarios हैं, जहाँ हम third parties, middlemen, और escrow agents को transaction को enforce करने के लिए trust करते हैं. इस तरीके से वे सभी अपनी commission को काट लेते हैं. Ethereum के case में ऐसी parties useless बन जाती हैं क्योंकि technology समझदार है. इनमे से कुछ Uber है (जिसे मैंने पहले ही explain किया), कुछ freelancing platforms है जैसे कि Upwork, Insurance Agents, Escrow agents, eBay, और Airbnb इत्यादि.
यदि Ethereum के decentralized platform पर ऊपर बताई गयी सभी applications का रेप्लिका बना दिया जाये, फिर हर एक industry पर इसका निम्न लाभ और positive disruption होगी:
  • किसी single point पर हुए failure या control की elimination हो जाएगी.
  • Interaction को हटा देता है और process को fast बना देता है.
  • Cost कम हो जाएगी क्योंकि Middlemen remove हो जायेगा.
तो जैसे कि Ethereum, Bitcoin से fundamentally अलग है, Ethereum और Bitcoins competitors नहीं हैं. वह इकट्ठे exist कर रहे है और real world की अलग-अलग types की problems को solve कर रहे हैं और दोनों एक नए future की possibility को प्रदर्शित करते हैं.

Ethereum का future

Ethereum का future केवल digital currency के तौर पर ही bright नहीं है, पर smart contracts और DApps को run करने के लिए एक platform के तौर पर भी bright है.
यह एक centralized economy से decentralized, borderless, और permissionless global economy की migration को accelerate कर रहा है.
Decentralized applications finance, entertainment, real estate, academia, insurance, healthcare, public sector, और social media जैसे industries को disrupt और change करेगा.
जैसे internet के inventors को इस बात का कोई अंदाज़ा नहीं था कि आने वाले दशकों में social media और cloud computing applications इस हद तक पहुँच जायेंगे, उसी प्रकार, Ethereum blockchain पर based applications का future क्या होगा.
DAO Hack के बाद, Ethereum का future promising लगता है. Volume के terms में, Ethereum already ही 2017 की सबसे अधिक trade की जाने वाली cryptocurrency बन चुकी है.
दूसरे शब्दों में शायद Ethereum के prices बढ़ेंगे ही.

Sunday, 17 December 2017

Bitcoin क्या है ? जानिए बिटकॉइन की पूरी जानकारी HINDI में, What is bitcoin? Bitcoin Full Details in hindi

What is Bitcoin? Bitcoin full details in hindi. Bitcoin क्या है ? जानिए बिटकॉइन की पूरी जानकारी – बिटकॉइन एक Digital Currency  है जिसे हम आम भाषा में Internet Currency भी कह सकते है। इस Currency को हम अपने घर या अपने Wallet में स्टोर नहीं कर सकते है क्योंकि ये किसी तरह का नोट या कोई Coin नहीं है। इसलिए बिटकॉइन को आप सिर्फ Online ही इस्तेमाल कर सकते है। बिटकॉइन एक Decentralized तरह से है मतलब इस Currency को कण्ट्रोल करने के लिए कोई Authority, Government या कोई बैंक नहीं है। 

ये Peer To Peer Network Base पर काम करता है l और बिटकॉइन यूजर इस पर विश्वास करते है कि ये एक Currency है। इस तरह से ये एक Global Currency बन गया है। बिटकॉइन का अविष्कार Satoshi Nakomoto ने साल 2009 में किया था इसके बाद से ये काफी Popular Currency बन गया है। 

Bitcoin की कीमत कितनी है? Or Bitcoin Price?

अगर बिटकॉइन की Value की बात करे तो आज की तारीख (दिसंबर 2017) में 1 बिटकॉइन की कीमत कीमत लगभग 1400,000 Indian Currency है।  ऐसा नहीं है कि आपको अगर Bitcoin Buy करना चाहते है तो आपको 1 Bitcoin ही खरीदना पड़ेगा। दरअसल बिटकॉइन की सबसे छोटी यूनिट Santoshi है और 1 Bitcoin = 10,00,00,000 (करोड़) Satoshi होता है। 
जैसे Indian Currency में 1 रूपए = 100 पैसे होते है l बैसे ही 10 करोड़ Sntoshi से मिलकर एक बिटकॉइन बनता है। मतलब आप 1 बिटकॉइन को 8 डेसीमल तक ब्रेक कर सकते है। आप 0.0001 Bitcoin भी यूज़ कर सकते है। 

Bitcoin कैसे खरीदे? Or How to buy bitcoin?

बैसे तो बिटकॉइन खरीदने के बहुत से तरीके है जैसे –
  1. बिटकॉइन को आप अपनी Local Currency से खरीद सकते है। 
  2. किसी Service से या किसी चीज को या बेचकर आप उस चीज के बदले बिटकॉइन ले सकते है। 
  3. इसके आलावा आप किसी वेबसाइट या एप्लीकेशन की मदद से Bitcoin Earn कर सकते है। 
  4. तो सबसे इम्पोर्टेन्ट आप बिटकॉइन Miner कर सकते है। 
यह भी पड़े -  How to earn money by adf.ly short link

Bitcoin Miner क्या है? Or What is bitcoin miner?

Mining के बारे में जानने से पहले हम आपको ये बता दे कि हर Country में नोट छापने की एक Limitation होती है उसी तरह बिटकॉइन बनाने की भी एक Limitation होती है। और Limitation  ये है कि मार्केट में 21 million से ज्यादा बिटकॉइन नहीं आ सकते है और अभी की बात करे तो मार्केट में लगभग 13 million Bitcoin है। तो नए बिटकॉइन है वो Mining के जरिये आते है। 
Bitcoin Mining क्या है ? मान लीजिये आपने किसी को कुछ बिटकॉइन  भेजे है। तो भेजने के इस Process को Verify करते है और Verify करने वालो को Miners कहते है। जिनके पास High Power Computer होते है। और इन Computer से Bitcoin Transection को Verify करते है।
Miners क्या Verify करते है ? जब हम किसी से बिटकॉइन लेते है तो इसमें कोई किसी तरह की हेरा फेरी या Cheating तो नहीं की गयी है। Verify करने पर रिवॉर्ड के तौर पर उन्हें नए बिटकॉइन मिलते है। तो इस तरह मार्केट में नए बिटकॉइन आते है। अगर आपके पास Heavy computer है तो आप भी Mining कर सकते है। 

Bitcoin के क्या फायदे है Or Advanteges of bitcoin?

  1. बिटकॉइन आदान प्रदान करने में कम फीस लगती है। 
  2. बिटकॉइन को आप दुनिया में कही भी बेच या खरीद सकते है। वो भी बिना किसी परेशानी के। 
  3. आप इसमें Long Term Investment कर सकते है क्योंकि अभी तक के रिकॉर्ड में बिटकॉइन बढ़ रहा है। 
  4. बिटकॉइन में Government आप पे नजर नहीं रखती है। 
तो बिटकॉइन में किसी Government की नजर नहीं होने के कारण कुछ लोग इसका गलत यूज़ भी करते है जैसे काले धन में या Drugs बगेरा में। बिटकॉइन के कुछ फायदे है तो कुछ नुकसान भी है। 

Bitcoin के क्या नुकसान है? Or Disdvanteges of bitcoin?

  1. इसमें कोई Control Authority , Bank , या कोई Government नहीं है जिसकी बजह से इसकी कीमत कम ज्यादा होती रहती है। 
  2. अगर आपका Bitcoin Account हैक हो जाता है तो आप बिटकॉइन बापस नहीं ले सकते है और इसमें Government आपकी किसी भी तरह से मदद नहीं करेगी। 
अब आप जान गए होंगे कि Bitcoin क्या होता है। हम इसको कैसे और कहा से खरीद सकते है। और बिटकॉइन से हमें क्या फायदा है और बिटकॉइन से क्या नुकसान हो सकते है। 

Friday, 8 September 2017

How to Create Google+ Brand Pages for your Blog

Google plus pages is a great way to give exposure to your brand on Google plus social networking site. Many of you make a mistake of treating your personal profile as your brand page, but it’s a wrong approach. You should create a dedicated Google Plus page for your brand (Blog, Website or any other).
In this guide, you will be learning to create a Google Plus page.  Before we move ahead, lets quickly create a page for our brand on Google+

When you create a page, it works like a Google+ profile, where you can share anything including images and videos. You can start a hangout, you can add people to your circles. The only difference is you can add only those people who have added you. This feature is going to be very helpful in targeting anything on your Google+ brand page. For example, if you are into services, you can add your client based on loyalty and keep offering offer based on group and so on. Ideas are limited, but this new follow back feature is going to be very beneficial for any brand. It’s good to have a plan from day one regarding the circles which you will create for your page. Anyways, let’s get start with your first Google+ page.

Step by step guide to create Google+ Brand Pages

Go to Create page and select your business type. If you are creating a Google Plus page for your Blog, you should select the brand as option.
Choose Google plus page type
Once you have selected the category, On the Next page; give the page name, add your website like and select type of page again.
Create Google plus page
Click on Create page, and friendly Google plus for business help tour will help you to fill out all other essential information.  Click on Edit and start filling out all the information about your Website/product on your Google Plus brand page. I suggest you to provide all essential information about your brand so that one-time visitor are more likely to follow your brand page on Google+.
Edit Google plus page information
You should enter the description about your brand and upload the brand image. Here is the image dimension for your Google Plus brand cover and profile photo:
  • The maximum size of the cover image can be of 2120 x 1192 px
  • The minimum size of the cover image must be more than 480 x 270 pix
  • The size of the profile picture is still of 250 x 250 pix
Google+ team has integrated a nice image editor to enhance your Google+ profile pic. Once you are done creating Google Plus page for your brand, you should share your page on your Google plus profile and on other social-media profiles. This is the first step to start getting followers on your Google+ brand pages.
If you own multiple Pages, you can easily switch between them using this drop down on left-hand side. You can create a Google+ hangout with your fans or share your page on your wall from right-hand side.


Like Facebook fan page, Google+ brand pages also have photos and videos tab which is going to be very useful for user engagement. We will talk more about user engagement on some other post, but for now it’s time to go and grab your brand page on Google+. Soon Google is launching Google+ brand follow widget which will be more like Facebook fan page widget, where user can quickly add you to their circle.

                                                                                                                   CREDIT - SHOUTMELOUD





Facebook Fan Box Widget for Website And Blog

In  monthly Traffic report I mentioned How facebook is one of the top traffic generating source for me. I have already shared a detailed guide on how to create Facebook fan page  and extending the list to growing your fan base. One of the most effective way to add more fans by adding Facebook fan box on your website.

Facebook Fan Box Widget


Another important thing which come along with traffic, is branding. Facebook Pages and Groups are a great way to Brand yourself. 
Facebook has expended it’s wing for facebook pages, and come up with a new innovation of Fan Box.

What is Facebook Fan Box?

Fanbox is a widget for your Facebook pages, which you can use on your blog and website. Your readers can see the member and Directly join your Facebook Fan pages from the web page.
You need to be an admin of a page to get the code for Fan box, simply go to your Fb page and click on Manage > Edit page
Facebook Edit Page
Now, click on sources and click on use Social plugins:
Use Social Plugins
On the Social plugins page, select Like box option from selection. Fan box is popularly called as Like box.
Now just add your Page URL here on this page and you can easily get the code to add on your site for Fan box.





Translate